अब मुफ्त में ले भरपूर बिजली ,घर में लगाये ये अनोखा ट्री जो दस दिनों तक बिना धूप के भी देगा पॉवर सप्लाई

Solar Tree – आज के युग की अगर वास्तविकता देखा जाये तो विश्व स्तर पर प्रतिवर्ष उर्जा की खपत में लगातार तेजी से बढ़ती जा रही है जिसके फलस्वरूप पैदा हो रही है उर्जा संकट |प्रगति के पथ पर चलते हुए मनुष्य ने ऊर्जा का विविध रूप में प्रयोग करके अपने जीवन को सरल तो बनाया लेकिन जाने-अनजाने उसने कई संकटों को भी जन्म दे डाला है। इसी प्रकार का संकट है ऊर्जा का और इससे इंकार करना या इसकी उपेक्षा करना दोनों ही घातक सिध्द हो सकते हैं।

Solar Tree panel in India

आज हमारे देश में जो उर्जा संकट है उसमें सोलर प्लांट की महत्ता और भी ज्यादा बढ़ जाती है और ऐसे में अगर आज सोलर प्लांट को बढ़ावा दिया गया तो देश से बिजली की कमी दूर हो जाएगी।आईआईटी पटना के इलेक्ट्रिकल डिपार्टमेंट ने एक अनोखा सोलर ट्री तैयार किया है। सोलर पावर से बिजनेस की शुरुआत करने के लिए इसकी “ट्री टेक्नोलॉजी”‘ ज्यादा बेहतर है।

solar tree

solar tree – सोलर ट्री प्लांट का खास तौर पर उद्देश्‍य यह है कि जिस तरीके से हरित क्रांति को लोग बढ़ावा दे रहे हैं उसी तरह से इस अभियान को भी बढ़ावा दिया जाए ताकि बिजली की कमी को दूर किया जा सके। आज सोलर प्लांट भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर में प्रचलन में है और इसकी सफलता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि भारत में लगातार इसका प्रचलन बढ़ रहा है।

इस सोलर ट्री की खास बात ये है कि ये बिना धूप के भी दस दिनों तक पॉवर दे सकता है। आईआईटी पटना द्वारा तैयार ये सोलर ट्री पूरी तरह से ऑटोमेटेड होगा जिसे रिमोट से संचालित किया जाएगा। इसी वजह से ये सोलर तरी किसी अन्य सोलर ट्री से एडवांस है। इसके साथ ही इस बात ही पुष्टी हो चुकी है कि यह दस दिनों तक लगातार पॉवर सप्लाई कर सकते है।

200 मीटर दूर से कर सकते है कंट्रोल

solar tree

आईआईटी पटना के इलेक्ट्रिकल डिपार्टमेंट के हेड और इस प्रोजेक्ट का नेतृत्व कर रहे डॉ.आरके बेहरा ने बताया कि आठ महा के परीक्षण में कई बातें स्पष्ट हो गई है। जैसे इस चौबीसों घंटे और बिना धूप के दस दिनों तक इसका यूज किया जा सकता है। यह जहां लगा होगा वहां से करीब 200 मीटर तक के रेंज से इस रिमोट से कंट्रोल किया जा सकता है।

सोलर ट्री की कीमत

solar tree

आपको बता दें कि प्रति सोलर ट्री की लागत पैनल के साइज और उसके कैपिसिटी पर भी डिपेंड करती हैं, इसके एक ट्री को लगाने में मात्र 1 मीटर से भी कम जगह का इस्तेमाल होता है। इसमें ट्री नुमा सेट में 4 से लेकर 12पैनल तक लगाए जा सकते हैं। कीमत कम से कम 1 लाख से शुरू होकर 15लाख तक जाती है।

ये धूप से एनर्जी को लेकर उसे बिजली में कन्वर्ट कर देती है। एक ट्री की तरह इसे लगाते हैं, जिसमें पत्तियों की जगह इसके पैनल लगे होते हैं।इस सोलर ट्री में एडवांस डिवाइस लगा है जिससे यह पता चल सकता है कि उशके किस हिस्से में गडबड़ी है। पूरी सिस्टम रिमोट कंट्रोलिंग के साथ बनाया गया है। हालाकिं मॉनिटर वायरलेस होगा। सोलर ट्री का फंक्शनिंग वायरलेस कम्यूनिकेशन पर आधारित है।

Solar Tree स्ट्रीट लाइट में भी इनिशिएटिव

आईआईटी पटना की टीम सोलर ट्री प्रोजेक्ट को एक कदम आगे ले जाते हुए इसी कॉन्सेप्ट पर स्ट्रीट लाइट के तौर पर भी इसे विकसित करने पर काम शुरू कर रही है। डॉ.आर के बेहरा ने बताया कि चूंकि यह देश भर में बने किसी भी सोलर ट्री से एडवांस औऱ अलग फीचर वाला है इसलिए इसे पेंटेट करने की भी तैयारी चल रही है।

Dinesh

Aaj Ki Taaza Khabar is the best way to read the daily news, and more about Techincal Khabar, gadgets, phones and much more.